Map Of Rohtas District | Rohtas District Map

Map Of Rohtas District Image

Map Of Rohtas District – बिहार के 38 जिला में से एक जिला है रोहतास (Rohtas District) 1972 में शाहाबाद जिले को भोजपुर और रोहतास में बांटा गया उसके बाद रोहतास जिला पटना डिवीजन का हिस्सा बन गया |Rohtas District Map रोहतास जिला के मानचित्र Rohtas District in hindi रोहतास जिला आमतौर पर कैमूर वाइल्डलाइफ …

Read more

रोहतास जिला का इतिहास History Of Rohtas

History Of Rohtas

रोहतास का एक पुराना और दिलचस्प इतिहास है। पूर्व-ऐतिहासिक दिनों में जिले का पठारी क्षेत्र आदिवासियों का निवास स्थान रहा है, जिनके प्रमुख प्रतिनिधि अब भर, चीयर्स और उरांव हैं। कुछ किंवदंतियों के अनुसार खेरवार रोहतास के पास पहाड़ी इलाकों में मूल निवासी थे। उरांव यह भी दावा करते हैं कि उन्होंने रोहतास और पटना के बीच के क्षेत्र पर शासन किया। स्थानीय किंवदंती राजा सहस्रबाहु को रोहतास जिले के मुख्यालय सासाराम से भी जोड़ती है। ऐसा माना जाता है कि सहस्रबाहु का महान ब्राह्मण रक्षक संत परशुराम के साथ भयानक युद्ध हुआ था, जिसके परिणामस्वरूप सहस्रबाहु मारा गया था। सहस्राम शब्द सहस्रबाहु और परशुराम से लिया गया माना जाता है। एक अन्य किंवदंती रोहतास पहाड़ी को राजा हरिश्चंद्र के पुत्र रोहिताश्व से जोड़ती है, जो एक प्रसिद्ध राजा था जो अपनी धर्मपरायणता और सच्चाई के लिए जाना जाता था।

Gupta Dham Sasaram(गुप्ता धाम मंदिर) : 2 साल के बाद एक बार फिर से गुलजार होगा गुप्ता धाम, इस वर्ष सावन के महीने में अत्यधिक भीड़ लगने की संभावना

Gupta dham photo sita kund gupta dham

Gupta Dham Sasaram-बीते पिछले 2 साल में करो ना महामारी के चलते गुप्ता धाम में श्रावणी मेला का आयोजन नहीं हो पाया है लेकिन इस साल गुलजार होगा गुप्ता धाम बीते पिछले 2 साल में मेला ना लगने के कारण सैलानियों में मायूसी देखने को मिली थी वहीं इस साल बोल बम के नारे से गुलजार होगा गुप्ता धाम का परिसर सज चुका है बाबा का दरबार लग चुकी है दुकाने सावन मेला के लिए पूरी तरीके से तैयार है दुकानदार आदमी सोमवार को अत्यधिक भीड़ लगने की संभावना है क्योंकि सावन महीने का पहला सोमवार को जलधार में पहुंचते हैं हजारों कांवरिया