All About Tilouthu(Rohtas)| तिलौथु के बारे में पूरी जानकारी

Tilouthu

Tilouthu Pin Code,Dehri to Tilouthu distance,Tilouthu Block village list,Sasaram to Tilouthu distance,Tilouthu to Rohtas distance,tilouthu weather,tilouthu temperature,tilouthu thana number,tilouthu news तिलौथू गांव वाला क्षेत्र है यह डेहरी ऑन सोन से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर है तिलौथू के जस्ट बगल से बहती है सोन नदी, तिलौथू की पापुलेशन 16400 दो है जहां की कुल 2745 परिवार में रहती है।

रोहतास जिला का इतिहास History Of Rohtas

History Of Rohtas

रोहतास का एक पुराना और दिलचस्प इतिहास है। पूर्व-ऐतिहासिक दिनों में जिले का पठारी क्षेत्र आदिवासियों का निवास स्थान रहा है, जिनके प्रमुख प्रतिनिधि अब भर, चीयर्स और उरांव हैं। कुछ किंवदंतियों के अनुसार खेरवार रोहतास के पास पहाड़ी इलाकों में मूल निवासी थे। उरांव यह भी दावा करते हैं कि उन्होंने रोहतास और पटना के बीच के क्षेत्र पर शासन किया। स्थानीय किंवदंती राजा सहस्रबाहु को रोहतास जिले के मुख्यालय सासाराम से भी जोड़ती है। ऐसा माना जाता है कि सहस्रबाहु का महान ब्राह्मण रक्षक संत परशुराम के साथ भयानक युद्ध हुआ था, जिसके परिणामस्वरूप सहस्रबाहु मारा गया था। सहस्राम शब्द सहस्रबाहु और परशुराम से लिया गया माना जाता है। एक अन्य किंवदंती रोहतास पहाड़ी को राजा हरिश्चंद्र के पुत्र रोहिताश्व से जोड़ती है, जो एक प्रसिद्ध राजा था जो अपनी धर्मपरायणता और सच्चाई के लिए जाना जाता था।

Shershah College of Engineering Sasaram – शेरशाह इंजीनियरिंग कॉलेज सासाराम

Shershah College of Engineering Sasaram- शेरशाह इंजीनियरिंग कॉलेज सासाराम (SCE) एक सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज है जिसका प्रबंधन विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, बिहार द्वारा किया जाता है। यह एआईसीटीई द्वारा अनुमोदित और मान्यता प्राप्त है और पटना में आर्यभट्ट नॉलेज यूनिवर्सिटी से संबद्ध है। कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग (एससीई), सासाराम सासाराम में स्थित एक प्रमुख सरकारी कॉलेज …

Read more

माँ तुतला भवानी मंदिर का इतिहास, इस तारीख को हुआ था मंदिर का स्थापना,कुछ जरूरी बातें जो आपको जानना है जरूरी

Tutla bhawani mata

History Of Tutla Bhawani Temple – तुतला भवानी मंदिर का इतिहास बिहार के रोहतास जिले के तिलौथू प्रखण्ड स्थित मां तुतलेश्वरी भवानी की प्रतिमा अति प्राचीन है। राजा प्रतापध्वल देव द्वारा लिखवाए गए दो शिलालेख यहां आज भी पहले शिलालेख में 19 अप्रैल 1158 (1254 संवत शनिवासरे) को महिषासुर मर्दिनी अष्टभुजी मां दुर्गा की नयी प्रतिमा स्थापित करने का …

Read more

Indrapuri Dam – इंद्रपुरी बांध

Indrapuri dam rohtas

Indrapuri Dam रोहतास जिले के इंद्रपुरी में इस्तिथ है यह डैम,अंग्रेज़ो के द्वारा बनाया गया है इंद्रपुरी डैम,एशिया महादीप में तीसरा सबसे लंबा डैम है इंद्रपुरी

Pilot Baba Ashram Sasaram – पायलट बाबा आश्रम सासाराम

Pilot Baba Ashram Sasaram

Pilot Baba Ashram Sasaram – रोहतास न केवल दर्शनीय स्थलों और शक्ति पीठों के लिए, बल्कि आश्रमों के लिए भी प्रसिद्ध है। भारत के कुछ प्रमुख और प्रचलित आश्रम की बात करे तो उनमे से इक आता है पायलट बाबा का आश्रम,परिसर में 80 फीट ऊंची बुद्ध की प्रतिमा का निर्माण किया गया है,जो कि बिहार …

Read more

वन विभाग ने किया कैमूर पहाड़ी पर बाघ होने का दावा खारिज | Mahadev Khoh Waterfall

mahadev khoo latest lion news

Mahadev Khoh Waterfall-महादेव खोह नाम सुनते ही लगता है कोई आकर्षित जगह है,और इसके नाम मे भी देव आदि देव शिव शंकर का जिक्र होता है।,महादेव खोह रोहतास जिले के नौहट्टा प्रखंड के बौलिया में स्थित है,यहाँ के पहाड़,झरना और जंगल और महादेव का मंदिर आपका मन मोह लेगा। Mahadev Khoo Baagh Latest News वन …

Read more